Showing posts with label Common Health Tips. Show all posts
Showing posts with label Common Health Tips. Show all posts

Tuesday, November 20, 2018

Elaichi khaane ke fayde in Hindi- इलायची के फायदे हिंदी में जानें

भारतीय घर में कई तरह के मसाले मिल जाते है। जिन्हें खाना बनाने के समय इस्तेमाल किया जाता है। क्यों की भारतीय लोग खाने में ज्यादातर मसालों का सेवन करते है। लेकिन कुछ मसालों का उपयोग केवल खाने को स्वादिष्ट बनाने तक ही सिमित नहीं बल्की उनका इस्तेमाल बहुत सारी जगह पर भी किया जाता है। उन मसालों में से एक हैं इलायची – Cardamom जो आसानी से घर में मिल जाती हैं, इलायची का इस्तेमाल खाने के साथ कई सारी बीमारियों को ठीक करने में भी किया जाता है इसकी जानकारी बहुत कम लोगो को पता होती है। आज इसी इलायची की बेहद महत्वपूर्ण फ़ायदे – Elaichi khaane ke fayde आपको बताने वाली हूँ। पोस्ट को अंत तक पढियेगा और जानकारी अच्छी लगे तो अपने दोस्तों और फैमिली मेंबर्स के साथ शेयर करना न भूलें। चलिए अब जान लेते है Elaichi khaane ke fayde  के बारे में। 

Elaichi-khaane-ke-fayde-in-hindi


त्वचा की अलर्जी को ख़तम करने में सहायक:
काली इलायची में कई सारे जिवानुरोधी तत्व होते है। इलायची और शहद का मिश्रण बनाकर जिस जगह पर अलर्जी होती है वह लगाने से अलर्जी पूरी तरह से निकल जाती है।

बालो को स्वस्थ रखने में सहायक:
स्कैल्प को स्वस्थ रखने में इलायची बहुत ही फायदेमंद है और इसके इस्तेमाल से बाल काफी मजबूत बन जाते है। इलायची का सेवन करने से बाल जड़ो से मजबूत हो जाते है और बाल बिलकुल चमकने लगते है।
इलायची का सेवन करने से इस तरह के फायदे होते है। इलायची को नियमित रूप से इस्तेमाल करते रहने से स्वास्थ्य बेहतर होता जाता है।

वजन घटाने में भी उपयोगी:
इलायची का इस्तेमाल करने से चयापचय बिलकुल सही तरीके से होता है जिसकी वजह से शरीर में वसा अधिक मात्रा में इकट्ठा नहीं हो पाता और वजन घटाना बहुत ही आसान काम हो जाता है।

Elaichi-khaane-ke-fayde-in-hindi


यौन स्वास्थ्य को ठीक करने में उपयोगी:
इलायची में कामोद्दीपक तत्त्व होते है। इलायची में बड़ी मात्रा में सिनोल होता है इसलिए इलायची का थोड़ासा भी पाउडर लेने से तंत्रिका उत्तेजित हो जाती है और इसकी वजह से ही यौन स्वास्थ्य बेहतर हो जाता है।

खून में सुगर की मात्रा को नियंत्रण में रखने में कारगर:

काली इलायची को खून में सुगर को नियंत्रण के रखने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इलायची में मैंगनीज बड़ी मात्रा में होने की वजह से शरीर में सुगर को कम करने में सहायता मिलती है।

कैंसर को प्रतिबन्ध करने में सहायक:

कैंसर की बीमारी में भी इलायची का इस्तेमाल किया जाता है। कई सारे जानवरों पर अध्ययन किया गया जिसमे सामने आया है की कैंसर के इलाज में इलायची काफी उपयोगी है। इलायची कैंसर होने से लोगो को बचा सकती है और जिन्हें कैंसर हुआ है उन्हें भी स्वस्थ करने में इलायची फायदेमंद साबित हुई है।

ह्रदय को स्वस्थ रखने में उपयुक्त:
इसमें एंटीऑक्सीडेंट तत्व होने की वजह से इलायची ह्रदय को बिलकुल स्वस्थ रखने में भी कारगर है। इसमें फायबर होता है जो शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को कम करता है और उससे ह्रदय बिलकुल ठीकठाक रहता है।
इलायची रक्तचाप को भी कम रखने में मदत करता है जिसकी वजह से भी हृदय को लाभ ही पहुचता है। इसके लिए आडू के रस में एक चमच धनिया और इलायची डालकर लेने से मदत मिलती है।
ह्रदय को स्वस्थ रखने के लिए काली इलायची सबसे असरदार साबित होती है इसलिए हमेशा ह्रदय को स्वस्थ रखने के लिए Green Elaichi – हरी इलायची का इस्तेमाल करने की बजाय काली इलायची का ही इस्तेमाल करना चाहिए। Black Elaichi – काली इलायची रक्त के थक्का बनने से रोकती है जिसकी वजह से रक्त बड़ी आसानी से ह्रदय तक पहुचता है और वहा से पुरे शरीर में भी बड़ी आसानी से प्रवाहित होता है।

पाचन स्वास्थ्य में सुधार करने के कारगर:

भारतीय लोगो के अनुसार इलायची को केवल सुगंध के लिए ही इस्तेमाल नहीं किया जाता बल्की इसके इस्तेमाल से पाचन और बेहतर होता है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट्स और उत्तेजक विरोधी तत्व होने की वजह पाचन काफी अच्छे से होता है।
इलायची पेट में पित्त अम्ल को बढ़ाने में भी सहायता करती है, जिसकी वजह से भी खाना पचाने में मदत मिलती है। दिल में जलन होना, डायरिया जैसे बीमारियों को दूर रखने में इलायची उपयोगी है।

पाचन में सहायता:
इलायची काफी सुगन्धित होने की वजह से यह स्वाद और संवेदी तत्व को सक्रिय कर देती है जिसकी वजह से पाचन में मदत मिलती है। इलायची का सेवन करने से शरीर में एंजाइम सक्रिय हो जाते है जिसकी वजह से खाना पचाने में मदत मिलती है। इलायची के सेवन से अपच, गैस और कब्ज की बीमारी से छुटकारा मिल जाता है। इसमें कुछ रासायनिक तत्व होते है जो आतो में खाने की गतिविधि को काफी तीव्र कर देता है।

खासी और जुकाम को ठीक करने में:
इलायची में एंटीऑक्सीडेंट्स मौजूद होते है। इलायची दो तरह की होती है एक हरी इलायची और दूसरी काली इलायची। काली इलायची खासी, जुकाम और श्वसन से जुडी बीमारी को ठीक करने सहायता करती है। इलायची की फली को शहद के साथ में पानी में भिगोकर रखने के बाद इसे चाय में इस्तेमाल किया जाए तो फ्लू से छुटकारा मिल जाता है। इलायची शरीर को गर्मी प्रदान करती है।

Elaichi-khaane-ke-fayde-in-hindi

इलायची का चयन – How to Choose Cardamom

मार्किट में कई तरह की इलायची बड़ी आसानी से मिल जाती है लेकिन सही तरीके की इलायची चुनना काफी जरुरी होता है। जब भी मार्किट में इलायची खरीदनी हो उस समय केवल हरी इलायची ही खरीदनी चाहिए क्यों की इसका उपयोग सभी तरह के पदार्थ में किया जा सकता है। इलायची को अगर खरीदना है तो उसे हमेशा फली के साथ में ही ख़रीदे और उसकी फली भी हरी रंग की होनी चाहिए और उसकी सुगंध भी आनी चाहिए।
अगर पीसी हुई इलायची चाहिए तो इलायची को पूरी तरह से मतलब उसकी फली के साथ में पिसना चाहिए। लेकिन पीसी हुई इलायची ज्यादा दिनों तक टिक नहीं सकती और उसका सुगंध भी चला जाता है लेकिन जो फली वाली इलायची होती है वह एक साल तक या फिर उससे भी ज्यादा समय तक चलती है।

इलायची को किस जगह पर सुरक्षित रखा जा सकता है – How to store Cardamom

इलायची को किसी डिब्बे में रखने पर इलायची एक साल तक भी इस्तेमाल की जा सकती है लेकिन इस बात का ध्यान रहे की उसे ठंडी और सुखी जगह पर संभालकर रखे। इलायची को डिब्बे में रखने के बाद में उसपर सूरज की किरने ना पड़ने दे। अगर इलायची को बड़ी मात्रा में इकट्टा करके रखना है तो उसे किसी पॉलिथीन की बैग में रखकर उस बैग को किसी लकड़ी के डिब्बे में रख दे ताकी इलायची लम्बे समय तक अच्छी रहे। इससे इलायची का हरा रंग भी वैसे का वैसे ही रहेगा। इलायची को जिस बैग में रखा जाता है वह पूरी तरह से सुखी होनी चाहिए। अगर बैग में थोडीसी भी नमी हो तो उससे इलायची ख़राब भी हो सकती है।

सभी मसालों में इलायची की जगह कुछ अलग ही है। दूर से ही लोगो की इलायची की महक महसूस होती है। लोग कई सारी मीठी चीजो में इलायची डाल देते है ताकी पदार्थ की मिठास और सुगंध और बढ़ सके। किसी भी खाने की चीज को स्वादिष्ट बनाने के लिए उसमे लोग इलायची जरुर डालते है। शायद इसी वजह से भी इलायची को मसालों की राणी कहा जाता है। इसकी सुगंध ही इतनी अच्छी होती है की लोग दूर से समझ लेते है। चाय में इलायची डालने से चाय और भी अच्छा हो जाता है। ज्यादातर लोग चाय में इलायची डालकर ही पीते है। इलायची महँगी होने के बाद भी लोग बड़ी मात्रा में इलायची का इस्तेमाल करते है।
जानकारी अच्छी लगी तो शेयर करना न भूलें, किसी भी प्रकार के सवाल अथवा सुझाव के लिए आप हमे कमेंट या फिर ईमेल कर सकते है। इसी तरह की रोचक जानकारी के लिए लगातार हमसे जुड़े रहें। आप सभी पाठकों का धन्यवाद। जल्द ही एक नई पोस्ट के साथ मिलते है। 

Tuesday, October 30, 2018

Gunguna pani pene ke fayde - गुनगुना पानी पीने के फायदे

हेलो फ्रेंड, दोस्तों पानी हमारी सेहत के लिए बहुत ही ज्यादा जरूरी होता है लेकिन आज हम आपको सुबह के समय एक गिलास Gunguna pani pene ke fayde बताने वाले है। सुबह के समय गुनगुना पानी पीना बहुत हे फायदेमंद  होता है।  इस पोस्ट को अंत तक जरुर पढ़िए यह पोस्ट आपके लिए बहुत ही ज्यादा जरूरी है . आइए जान लेते हैं सुबह के समय गुनगुना पानी पीने से क्या-क्या फायदे होते हैं .

Gunguna-pani-pene-ke-fayde
गुनगुना पानी पीने के फायदे


Gunguna pani pene ke fayde - गुनगुना पानी पीने के फायदे

कब्ज की समस्या से छुटकारा-
अगर किसी व्यक्ति को कब्ज की समस्या है तो उस व्यक्ति को हर रोज सुबह के समय एक गिलास गुनगुना पानी जरूर पीना चाहिए . सुबह के समय एक गिलास गुनगुना पानी पीने से कब्ज जैसी समस्या से तुरंत छुटकारा मिल जाता है .

ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखने में फायदेमंद
अगर किसी व्यक्ति को हाई ब्लड प्रेशर की बीमारी है तो उस व्यक्ति को हर रोज सुबह के समय एक गिलास गुनगुना पानी धीरे-धीरे पीना चाहिए इस पानी को पीने से उस व्यक्ति का ब्लड प्रेशर नॉर्मल रहता है साथ ही यह ब्लड सरकुलेशन को भी सही रखता है .

बालों के लिए फायदेमंद
अगर कोई व्यक्ति हर रोज सुबह के समय एक गिलास गुनगुना पानी पीता है तो उस व्यक्ति के बाल हमेशा अच्छे काले और घने रहते हैं क्योंकि गुनगुना पानी पीने से शरीर में मौजूद बैक्टीरिया और विषैले पदार्थ तुरंत बाहर निकल जाते हैं जिस वजह से आपका शरीर अंदर से फिट रहता है और आपको बीमारियां हो नहीं पाती है .

मुहांसों को रोकने में फायदेमंद
सुबह के समय गुनगुना पानी पीना मुहांसों को रोकने के लिए बहुत ही ज्यादा फायदेमंद होता . क्योंकि यह शरीर में मौजूद गंदगी को बाहर निकालता है और खून को शुद्ध करता है जिस वजह से आपको मुहांसों की समस्या से छुटकारा मिल जाता है .

Gunguna-pani-pene-ke-fayde
गुनगुना पानी पीने के फायदे


वजन कम करने में फायदेमंद
किसी व्यक्ति का वजन दिन पर दिन बढ़ता जा रहा है तो उस व्यक्ति के लिए यह सबसे ज्यादा कारगर उपाय है . हर रोज सुबह के समय एक गिलास गुनगुने पानी में एक चम्मच शहद मिलाकर पीते हैं तो वजन बहुत ही ज्यादा तेजी से घटता है और आपका शरीर हमेशा फिट रहता है

सर्दी-जुकाम से राहत
बेमौसम भी आपको अगर छाती में जकड़न और जुकाम शिकायत रहती है तो गर्म पानी पीना आपके लिए रामबाण से कम नहीं है. गर्म पानी पीने से गला भी ठीक रहता है. इसके सेवन से आराम मिलता है.

बॉडी करे डिटॉक्‍स
गर्म पानी पीने से बॉडी को डिटॉक्‍स करने में मदद मिलती है और यह शरीर की सारी अशुद्धियां को बहुत आसानी से साफ कर देता है. गर्म पानी पीने से शरीर का तापमान बढ़ने लग जाता है, जिससे पसीना आता है और इसके माध्यम से शरीर की अशुद्धियां दूर हो जाती हैं.

ब्‍लड के सर्कुलेशन को रखे सही
शरीर को सुचारू रूप से चलाने के लिए खून का संचार पूरी बॉडी में सही से होना बहुत जरूरी है और इसमें गर्म पानी पीना बहुत फायदेमंद रहता है.

जोड़ों का दर्द करे दूर
गर्म पानी जोड़ों को चिकना बनाता है और जोड़ों का दर्द भी कम करता है. हमारी मांसपेशियों का 80 प्रतिशत भाग पानी से बना हुआ है इसलिए पानी से मांसपेशियों की ऐंठन भी दूर होती है.

पेट को रखे दुरूस्‍त
गर्म पानी पीने से पाचन क्रिया अच्छी रहती है और यह गैस की समस्या में भी राहत देता है. खाना खाने के बाद एक कप गर्म पानी पीने का आदत जरूर डालें. ऐसा करने से खाना जल्‍दी पच जाता है और पेट हल्‍का रहता है.

भूख बढ़ाए
जिन लोगों को भूख न लगने की प्रॉब्लम हो, उन्हें एक ग्लास गर्म पानी में काली मिर्च, नमक और नींबू का रस डालकर पीना चाहिए। इससे भूख बढ़ जाती है।

Gunguna-pani-pene-ke-fayde
गुनगुना पानी पीने के फायदे


रिंकल्स हटाएँ
उल्टा-सीधा खाना खाने से शरीर के अंदर विषैले पदार्थ जम जाते हैं, जो शरीर को अंदर से कमजोर कर देते हैं। इंसान जल्दी बूढ़ा लगने लगता है। इस समस्या को रोकने के लिए सुबह गर्म पानी पिएं। यह आपकी त्वचा की झुर्रियों को कम करता है, साथ ही पेट भी साफ रखता है।

नाक और गले की तकलीफ से राहत
अगर नाक और गले में दिक्कत हो तो सांस लेने व कुछ खाने में बड़ी परेशानी होती है। खराश और खांसी भी बड़ी समस्या होती है। इन सभी रोगों से बचने और आराम पाने के लिए गर्म पानी से गरारा करें और गर्म पानी पिएं।
फ्रेंड्स ये थे Gunguna pani pene ke fayde उम्मीद करती हूँ आप सभी को पोस्ट पसंद आयी होगी और दी गयी जानकारी आपके लिए फायदेमंद होगी। पोस्ट अच्छी लगी तो फेसबुक और व्हाट्सस्प के जरिये अपने फेमिली और दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें। किसी भी प्रकार के सवाल के लिए आप हमे कमेंट बॉक्स में कमेंट कर सकते है। हेल्थ और डेली लाइफ टिप्स के लिए हमारे ब्लॉग से जुड़े रहें। धन्यवाद दोस्तों। 

Wednesday, October 24, 2018

Sardiyo me mungfali khane ke fayde - मूंगफली खाने के फायदे

हेलो फ्रेंड्स, सर्दीयां आ चुकी हैं और सर्दी के मौसम में मूंगफली खाने का अपना ही मजा है. इसे सस्ता बादाम भी कहा जाता है. इसमें लगभग वो सारे तत्व पाए जाते हैं, जो बादाम में होते हैं. ये कितनी अच्छी बात है की हम मूंगफली खाते समय टाइम पास के साथ साथ अपनी सेहत के लिए भी कुछ अच्छा कर रहें है। आज की पोस्ट में मैं आपको यही बताने वाली हूँ की Sardiyo me mungfali khane ke fayde क्या है।
मूंगफली में सेहत का खजाना छिपा हुआ होता है. इसमें पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है, जो शारीरिक वृद्धि के लिए बहुत जरूरी है. अगर आप किसी भी कारण से दूध नहीं पी पाते हैं तो यकीन मानिए मूंगफली का सेवन एक बेहतर विकल्प है.

Sardiyo-me-mungfali-khane-ke-fayde
Sardiyo-me-mungfali-khane-ke-fayde


आइए जानते हैं  Sardiyo me mungfali khane ke fayde
....

1. वजन कम करें-मूंगफली वजन कम करने में बेहद मददगार साबित होती है. मूंगफली खाने के बाद लंबे समय तक भूख का एहसास नहीं होता है. इस कारण आप ज्यादा खाते नहीं हैं, जिस वजह से आपको वजन कम करने में आसानी होती है.

2. एंटीऑक्सीडेंट्स और मिनरल्स से भरपूर होने की वजह से मूंगफली स्ट्रोक और दिल संबंधी समस्याओं के खतरे को कम करती है. मूंगफली में मौजूद ट्रिप्टोफेन डिप्रेशन की समस्या को भी दूर करने में मददगार साबित होते हैं

3. मूंगफली में अधिक मात्रा में फाइटोस्टेरोल मौजूद होता है, जिसे बीटा-सीटोस्टेरोल कहते हैं. ये फाइटोस्टेरोल कैंसर से सुरक्षित रखने में कारगर साबित होता है. यूएस में हुई एक स्टडी की रिपोर्ट के मुताबिक, जो महिलाएं और पुरुष कम से कम हफ्ते में 2 बार मूंगफली का सेवन करते हैं, ऐसी महिलाओं में कोलोन कैंसर होने का खतरा 58 फीसदी और पुरुषों में 27 फीसदी कम होता है.

4. कई स्टडी में इस बात की पुष्टि हो चुकी है कि जो महिलाएं प्रेग्नेंसी से पहले और प्रेग्नेंसी के दौरान कम से कम 400 ग्राम मूंगफली का सेवन करती हैं, उनके बच्चों में पैदाइश के समय किसी तरह की कमी नहीं होती है. इसके अलावा मूंगफली के सेवन से शिशु में अस्थमा होने का खतरा भी कम होता है.

5. आपको ये जानकर खुशी होगी कि मूंगफली सेहत के साथ-साथ स्किन के लिए भी बहुत फायदेमंद होती है. मूंगफली में मौजूद मोनोसैचुरेटेड एसिड स्किन को हाइड्रेट करने के साथ स्किन में ग्लो भी लाता है.

6. मूंगफली में विटामिन सी भी पाया जाता है, जो जुकाम और खांसी जैसी समस्याओं से सुरक्षित रखता है.
मूंगफली में मैंगनीज के साथ-साथ मिनरल्स भी पाए जाते हैं. ये मिनरल्स फैट, कार्बोहाइड्रेट, मेटाबॉलिज्म, कैल्शियम एब्जोर्प्शन और ब्लड शुगर को रेगुलेट करते हैं. कई स्टडी की रिपोर्ट में बताया गया है कि मूंगफली के सेवन से डायबिटीज का खतरा 21 फीसदी तक कम होता है. अगर आपको डायबिटीज है तो अपने डॉक्टर की सलाह लेकर मूंगफली खा सकते हैं.

Sardiyo-me-mungfali-khane-ke-fayde
Sardiyo-me-mungfali-khane-ke-fayde

7. मूंगफली में भरपूर मात्रा में मोनोसैचुरेटेड और पॉलीअनसेचुरेटेड फैट्स मौजूद होते हैं. खासकर मूंगफली में पाया जाने वाला ओलिक एसिड ब्लड में बैड कोलेस्ट्रोल को कम करता है और गुड कोलेस्ट्रोल के स्तर को बढ़ाता है. ये शरीर में कोलेस्ट्रोल के स्तर को बैलेंस भी करता है और साथ ही कोरोनरी आर्टरी डिजीज से शरीर को सुरक्षित रखता है

8. मूंगफली में भारी मात्रा में फोलिक एसिड मौजूद होता है, जो महिलाओं में फर्टिलिटी को बेहतर बनाता है. इसके अलावा शिशु के स्वास्थ्य को भी बेहतर करता है. अगर आप प्रेग्नेंसी के शुरुआती दिनों में है, तो आज से ही मूंगफली खाना शुरू कर दें. इससे शिशु की सेहत अच्छी बनी रहेगी

तो दोस्तों ये थे Sardiyo me mungfali khane ke fayde. इसलिए सर्दियों में बेफिक्र होकर मूंगफली खायें। उम्मीद करती हूँ आपको पोस्ट पसंद आयी होगी, किसी प्रकार के सुझाव अथवा सवाल के लिए आप हमे कमेंट या ईमेल कर सकते है। जानकारी पसंद आयी तो प्लीज अपने दोस्तों के साथ शेयर करना न भूलें। अन्य रोचक जानकारी और टिप्स के लिए लगातार www.HindiTipsGuide.com पर विजिट करते रहें। हमसे जुड़े रहने के लिए  धन्यवाद।